Jyotish Upaay se jane Apne Aadato ka Subh-Asubh Fal!

0
566
views
Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
1

Subh-Ashubh Fal

आदत, हमारें व्यक्तित्व का दर्पण होता हैें। किसी की भी आदत को देख कर हम उसके सोच कैसी है या उसका स्वभाव कैसा है जान सकते हैं। इसलिए हमें अपनी अच्छी आदतों का विस्तार करना चाहिए और बुरी आदतों को छोड़ना चाहिए। क्योंकि हमारी आदतों का संबंध हमें प्राप्त होने वाले सुख-दुख और भविष्य से जुड़ा हुआ हैं। ग्रंथों में अच्छी आदतें और बुरी आदतें के शुभ-अशुभ फल के संदर्भ में बताया गया है। इसी क्रम में आज हम आपकों बतायेगें की कौन सी आदत से आपकों बनाए रखना चाहिए और कौन सी आदत को बदल लेना चाहिए।

१.घर में स्थापित मंदिर को स्वच्छ रखना-

अगर हम अपने घर में स्थापित मंदिर स्थल को साफ-सुतरा और व्यस्थित रखें तो सभी देवी-देवताओं के साथ ही सभी नौ ग्रह हमें शुभ फल देते हैं एवं माँ लक्ष्मी की कृपा भी सदैव हम पर बनी रहती हैं।

२.घर में मेहमान आने पर शीतल जल दें-

आप के घर में अगर कोई मेहमान आता है तो उन्हें सर्वप्रथम शीतल पेय जल अवश्य दें। ऐसा करने से कुंडली में राहु के दोष दूर होते हैं। कालसर्प दोष या राहु से संबंधित अन्य कोई दोष हो तो शुभ फल देने लगता हैं।

३.रसोई का अव्यवस्थित होना-

अगर आप के घर में रसोई स्थान अव्यवस्थित हो तो उसे व्यवस्थित कर लेना चाहिए। ऐसा न होने से या समय-समय पर साफ-सफाई न करने से मंगल ग्रह का कुंडली में दोष की वृद्धि होती है। वहीं अगर कुंडली में मंगल दोष हो तो अपने रसोई को हमेशा साफ-सुतरा चरूर रखें।

४.चलते समय पैरों को घसीटकर चलना-

पैर घसीटकर कभी नहीं चलना चाहिए। अगर पैर घसीटकर आप चलते है तो इस आदत से आप कों राहु के अशुभ फल मिल सकते हैं।

५.पेड़ों को जल जरूर अर्पित करें-

पेड़-पौधों को रोज जल देने से कभी भी मानसिक तनाव का सामना नहीं करना पड़ता हैं। और अगर कुंडली में बुध, सूर्य, चन्द्रमा और शुक्र के दोष हो तो पेड़-पौधों को जल देना आपके लिए लाभकारी सिद्ध हो सकता हैं।

६.कभी भी जोर-जोर से न बोलें-

शनि को सबसे अप्रिय आदत जातकों की जोर-जोर से बोलना एवं चीख-चीखकर बात करना लगता हैं। ऐसे जातकों को शनि के कोप का सामना करना पड़ता हैं।

७.कभी भी देर रात तक न चागे-

यदि अकारण ही देर रात तक जागते है तो चंद्र ग्रह का आपको इसका अशुभ फल मिलता हैं। और मानसिक तनाव एवं स्वास्थ्य संबंधीत कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

८.इधर-उधर कभी न थूके-

कहीं पर भी थूकने की आदत से आप के यश, मान-सम्मान का नाश होता हैं। और आप को लक्ष्मी के कोप का सामना करना पड़ सकता हैं। इसलिए इधर-उधर न थूके और सिर्फ निर्धारित स्थान का ही उपयोग करें।

९.वृद्धजनों का कभी अपमान न करें-

जिन घरों में वृद्ध लोगों का मान-सम्मान नहीं होता हैं। या उनका मजाक बनाया जाता हैं। तो ऐसे घर में देवी-देवताओं की कृपा नही रहती हैं।

१०.कभी भी नशा न करें-

नशा में शराब, सिगरेट या किसी तरह का मादक चीजों का सेवन नही करना चाहिए। नहीं तो आप को हमेशा राहु के कारण परेशानियों का सामना करना पड़ सकता हैं।

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
1

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here