Kin Lakadi se bane Ishwar ki Murti dete hai Ashubh Fal, Rakhe 7 baato ka Dhyaan

0
1209
views
Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
11

Ped se bani Murti-1

भविष्य पुराण में उल्लेखित है कि भगवान की मूर्ति बनाते समय इंसान अपने हैसियात के अनुसार सोना, चांदी, तांबा, पत्थर, चित्रलिखित, मिट्टी या फिर पेड़ की लकड़ी का उपयोग करता हैं। जिसके बाद उसमें प्राण प्रतिष्ठा करके विधि-विधान से पूजन-अर्चन कर अपने ईष्ट को प्रसन्न करता है। जिससे उसकी हर मनोकामनाएं पूर्ण होती है। परतुं अगर इसका उल्टा हो जाए। शुभ फल मिलने के स्थान पर आपकों अशुभ फल मिलने लगे तो आपका सब अनिष्ट हो जाता हैं। आज हम इसी क्रम में आपकों बतायेगें कि किन पेड़ों की बनी हुई लकड़ी के ईश्वर की मूर्ति आपका सर्वनाश कर सकती हैं।
१.शमशान में लगे हुए पेड़-
Samshan me laga ped
अगर शमशान में कोई पेड़ लगा हुआ है और इसका उपयोग ईश्वर की मूति बनाने में हो तो इसका आपको अशुभ फल मिलता है।
२.पक्षियों का निवाश वाला पेड़-
birds on tree
जिस पेड़ में किसी पक्षि का घोसला हो या फिर मौसम की मार से वह पेड़ पूरी तरह से दूषित हो चूका हो तो ऐसा पेड़ की बनी ईश्वर की मूर्ति अशुभ फल देती हैं।
३.पेड़ो से दूध निकले तो-
milk spred wale ped
जिन पेड़ों को काटने पर उसमें दूध की रिसाव हो तो ऐसे पेड़ों का उपयोग ईश्वर की मूर्ति बनाने हेतू उपयोग न करें।
४.पुत्रक पेड़-
Tree in house
नि:शंतान वालें व्यक्ति द्वारा अपने पुत्र का स्वरूप मान कर पेड़ लगाया हो तो ऐसे पेड़ का इस्तेमाल मूर्ति बनाने के लिए नहीं करना चाहिए।
५.कमजोर पेड़-
weak tree
जिन में घून(दीमक) लग चूका हो और वह पूरी तरह से खोखला हो चुका हो तो ऐसे पेड़ को ईश्वर की मूर्ति बनाने में वर्जित माना गया है।
६.वृद्ध पेड़-
old tree
अगर पेड़ की आयु पूरी हो चुकी हो या फिर उसकी शाखाएें सूख चूकी हो तो उससे भी ईश्वर की मूर्ति नहीं बनानी चाहिए।
७.वल्मीक वाले पेड़-
snak in tree
जिन पेड़ों के निचे चींटियों का निवाश स्थान हो या सांप रहते हो तो भी ऐसे पेड़ो को चुनाव ईश्वर की मूर्ति बनाने के लिए कभी नहीं करना चाहिए। अशुभ फल मिलता हैं।

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
11

Warning: A non-numeric value encountered in /home/gyaansagar/public_html/wp-content/themes/ionMag/includes/wp_booster/td_block.php on line 1008

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here