Kya Jhhadu hamare Durbhagya ko Bhagya me badal sakta hai? Jaane Jhhadu se jude Maa Lakshmi ki prapti ke Achuk Upay!

0
1103
views
Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
41

क्या झाड़ू हमारे र्दुभाग्य को भाग्य में बदल सकता हैं?, जाने झाड़ू से जुड़े माँ लक्ष्मी की प्राप्ति के अचूक उपाय!

lakshmi आज के दौर में आधुनिक होने के साथ हम अपने पौराणिक सभ्यता को पूरे तरीके से भूलते जा रहें है। जिसके परिणाम स्वरूप जाने-अनजाने में हमारे द्वारा किये गए कुछ गलतियों से इसका दुष्प्रभाव हमें अपने जीवन में भुगतना पड़ता हैं। जैसे कि परिवार में किसी का स्वास्थ्य अचानक खराब हो जाना या फिर धन के आने में अड़चन आना एवं सुख-समृद्धि का घर से चले जाना। ऐसे अनगिनत समस्याओं का सामना करना पड़ता हैं।
बता दें कि शास्त्रों में झाड़ू और माँ लक्ष्मी का एक ही स्वरूप बताया गया हैं। कहा जाता है कि जहां माँ लक्ष्मी निवास करती हैंं। वहां पर दरिद्रता नहीं रूकती हैं। इसलिए झाड़ू से भी दरिद्रता रूपी गंदगी को बाहर किया जाता है। जिनके घर रोज साफ-सूतरा होते है। वहां पर सकारात्मक ऊर्जा रहता है। जिससे घर का वास्तु दोष भी दूर होते हैं। ऐसे ही कई छोटी-छोटी बातों को ध्यान रखा जाये तो माँ लक्ष्मी का हमें और हमारें घर में विशेष कृपा रहेगी।

माँ लक्ष्मी की विशेष कृपा पाने के लिए करें झाड़ू के अचूक उपाय-

माना जाता है कि दान से बड़ा पून्य कोई दुसरा नही है। ऐसे में अगर हम मंदिर में तीन झाड़ू का दान करते हैं तो इसका हमें और हमारें जीवन में सकारात्मक और शुभ फल की प्राप्ति होती है। पर ऐसा करने से पहले कुछ बातों को ध्यान अवश्य दें। जैसे-…

१. दान करने का सही समय सुबह का ब्रह्म मुहूर्त ही माना गया हैं।

२. इस कार्य को करने से पहले हमें किसी ज्योतिष से परामर्श ले लेना चाहिए या फिर किसी भी त्यौहार या फिर शुक्रवार के दिन यह कार्य करना चाहिए।

३. शास्त्रों में गुप्त दान को बड़ा ही फलदायी माना गया है। इसलिए हमें यह कार्य करने से पहले यह सूनचित कर लेना चाहिए। कि इस दान का किसी को भी भनक नहीं लगना चाहिए।

४. शास्त्रों में यह भी बताया गया है कि जिस दिन हमें यह कार्य करना चाहिए। उसके एक दिन पूर्व हमें बाजार से ३ झाड़ू की खरीदारी कर लेनी चाहिए।

५. नऐ झाड़ू के दान करने का ही विधान हैं। कभी भी भूल से घर के पूराने झाड़ू का दान मंदिर में न करें।

झाड़ू को घर में रखने का सही तरीका-

Jhhadu

बता दें कि…
१. दिन के समय में झाड़ू को किसी के समझ न रखें। हमेंशा झाड़ू को छिपा कर रखें।

२. रसोर्इं में कभी भी भूल कर झाड़ू को न रखें। ऐसा करने से रसोर्इं में मौजूद राशन जल्द खत्म हो जाता है और रसोर्इं में बने भोजन को खाने से हमारें स्वास्थ्य पर भी प्रभाव पड़ता हैं।

३. वैसे तो झाड़ू को छिपा कर रखना चाहिए। लेकिन यह नियम सिर्फ दिन के समय ही लागू होती हैं। रात के समय अगर घर के प्रवेश द्वार के सामने झाड़ू को रखे तो इससे घर में प्रवेश होने वाले नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश नही कर पाती है।

नोट: कहा जाता है कि झाड़ू से घर में प्रवेश करने वाली बुरी अथवा नकारात्मक ऊर्जा नष्ट हो जाती हैं।

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार झाड़ू से जूड़ी कुछ शकुन-अपशकुन बातें-

हमेशा से शास्त्रों में शकुन-अपशकुन का विशेष ध्यान देने की बात कही गयी हैं। जिसके ध्यान में रखने से हमें शुभ फल की प्राप्ति होती हैं। जैसे कि…

१. सूर्यास्त के बाद एक बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए। कि हमें भूल से भी संध्या के समय झाड़ू या पोंछा नहीं लगाना चाहिए। यह अपशकुन को बुलावा देना होता हैं।

२. कभी भी जाने-अनजाने में झाड़ू पर अपना पैर न रखें। ऐसा होने से माँ लक्ष्मी उस घर को छोड़ कर चली जाती हैं।

३. घर के सामने खड़ी गाय या फिर अन्य जानवर को कभी भी झाड़ू से नहीं मारना चाहिए। इससे भी माँ लक्ष्मी रूष्ट हो जाती हैं।

४. घर में आऐ मेहमान हो या फिर घर का सदस्य, उनके घर से जाने के तुरन्त बाद घर में झाड़ू नहीं लगाना चाहिए। मान्यता है कि ऐसा करने से उस व्यक्ति को असफलता का सामना करना पड़ता हैं।

५. घर में किसी भी स्थान पर झाड़ू को कभी भी खड़ी अवस्था में न रखें। इसका दुष्प्रभाव घर में पड़ता है।

६. घर में किसी छोटे बच्चे द्वारा अचानक झाड़ू ले कर घर में झाड़ू लगाना शुरू कर दें तो ऐसा मान्यता है कि किसी अनचाहे मेहमान के आने का संकेत हैं।

७. अगर आप नऐ घर में प्रवेश कर रहे है तो अपने साथ नये झाड़ू को अवश्य ले जाये। ऐसा करने से आपके साथ आपके नए घर में सुख-समृद्धि का भी आगमन होता हैं।

पोंछा से जूड़े अचूक उपाय-

गुरूवार के दिन छोड़ कर हर दिन घर में पोंछा लगाना चाहिए। क्यों कि गुरूवार को पोंछा लगाने से माँ लक्ष्मी रूष्ट हो जाती है। वैज्ञानिक दृष्टि से पोंछा लगाने से पहले पानी में नमक के कुछ अंश को मिला देना चाहिए। ऐसा करने से जमीन में विचरण कर रहें सूक्ष्म कीटाणू पूरी तरह से नष्ट हो जाते हैं। साथ ही, घर की नकारात्मक ऊर्जा भी खत्म हो जाती हैं। पुरानी मान्यता के अनुसार ऐसा घर पूरी तरह से पवित्र और सकारात्मक ऊर्जा से भरा हुआ होता है। और जिस घर का वातावरण पवित्र होगा। वहां माँ लक्ष्मी का आगमन होता ही हैं।

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
41

Warning: A non-numeric value encountered in /home/gyaansagar/public_html/wp-content/themes/ionMag/includes/wp_booster/td_block.php on line 1008

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here