मंगलवार को ही क्यों होती है हनुमान जी की पूजा, जानें कारण और महत्व

0
50
views
Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
1

आखिर मंगलवार का ही दिन हनुमान जी की पूजा के लिए इतना खास क्यों माना जाता है? क्या है इसके पीछे का रहस्य और हनुमान जी की पूजा के दौरान किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, जानें.

 वैसे तो आप किसी भी भगवान की पूजा किसी भी दिन कर सकते हैं लेकिन हफ्ते के सातों दिन किसी न किसी भगवान को समर्पित हैं और उस दिन उन भगवान की पूजा करने से विशेष फल की प्राप्ति होती है. ठीक इसी तरह मंगलवार का दिन हनुमान जी का दिन माना जाता है और इस दिन बजरंगबली की पूजा करने से मनोवांछित और उत्तम फल की प्राप्ति होती है. लेकिन आखिर मंगलवार को ही हनुमान जी की पूजा करने के पीछे का कारण क्या है? अगर आपके मन में भी कभी न कभी ये सवाल आया होगा, तो यहां जानें उसका जवाब और हनुमान जी पूजा करने के दौरान किन नियमों का पालन है जरूरी.

इस वजह से मंगलवार को होती है हनुमान जी की पूजा.

पौराणिक मान्यताओं और विशेष कर स्कंद पुराण के अनुसार, मंगलवार के दिन हनुमान जी का जन्म हुआ था, इस कारण से यह दिन उनकी पूजा के लिए समर्पित कर दिया गया. इस दिन विधि विधान के साथ बजरंगबली की पूजा करने से वे जल्द प्रसन्न होते हैं, श्रद्धालुओं की सभी मनोकामनाएं पूरी करते हैं और संकटों को भी दूर करते हैं. यही कारण है कि हनुमान जी को संकटमोचन भी कहा जाता है. इसके अलावा चूंकि हनुमान जी को मंगल ग्रह का नियंत्रक भी माना जाता है, इसलिए भी मंगलवार के दिन हनुमान जी की पूजा की जाती है. इस दिन व्रत और उपवास रखने के साथ ही हनुमान चालीसा का पाठ और सुंदरकांड का पाठ बेहद फलदायी माना जाता है.

हनुमान जी की पूजा और मंगलवार के व्रत में इन बातों का रखें ध्यान

– हनुमान जी की पूजा करते समय पवित्रता का विशेष ध्यान रखना चाहिए. 
– जब भी पूजा करें, मन और तन से पवित्र होकर ही करें. पूजा के दौरान मन को इधर-उधर भटकने न दें. शांत मन से ही करें पूजा.
– मंगलवार के दिन व्रत रख रहे हैं तो इस दिन नमक न खाएं और अगर किसी मीठी चीज का दान कर रहे हों तो उसका भी सेवन न करें.
– मंगलवार के दिन हनुमान जी की पूजा करने के साथ ‘ॐ श्री हनुमते नमः’ का जाप करना भी फलदायी माना जाता है. 
– इस दिन लाल वस्त्र पहनना शुभ होता है, भूलकर भी काले या सफेद कपड़े पहनकर हनुमान जी की पूजा न करें.
– मंगलवार का व्रत रखने वाला व्यक्ति पूरे दिन में एक बार भोजन करना चाहिए.

जानें हनुमान चालीसा पढ़ने के सही नियम, इस तरह 7 बार जाप करने से हर संकट दूर करते हैं मारुतिनंदन

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मंगलवार का दिन भगवान श्री राम के परम भक्त हनुमान जी को समर्पित है. इस दिन हनुमान चालीसा का पाठ करने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है. जानें हनुमान चालीसा पाठ के सही नियम. 

1.हनुमान चालीसा का पाठ इस दिन करें

वैसे तो नियमित रूप से भगवान का चालीसा पाठ करने से व्यक्ति को शुभ फलों की प्राप्ति होती है. हनुमान चालीसा का पाठ वैसे को नियमित रूप स किया जा सकता है. लेकिन मंगलवार और शनिवार के दिन सात बार हनुमान चालीसा का पाठ करने से भक्तों के सभी कष्ट दूर होते हैं. बता दें कि हनुमान चालीसा का पाठ सुबह या शाम के समय लाल रंग के आसन पर बैठकर किया जाता है.  ऐसा करने से हनुमान जी प्रसन्न होंगे और आपको आशीर्वाद प्रदान करेंगे. वहीं, अगर संभव हो तो रोजाना रात के समय हनुमान चालीसा का पाठ किया जा सकता है. 

2.भय से मिलती है मुक्ति

शास्त्रों के अनुसार अगर आप रोज सुबह उठकर सात बार हनुमान चालीसा का पाठ करते हैं, तो किसी भी व्यक्ति को जीवन में किसी चीज का डर नहीं सताएगा. उसे भय से मुक्ति मिलेगी.  

3.नकारात्मकता होती है दूर

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार नियमित रूप से हनुमान चालीसा का पाठ सात बार किया जाए, तो घर से नकारात्मकता दूर होती है. साथ ह, पॉजिटिव एनर्जी मिलती है. 

4.सुख, शांति और समृद्धि के लिए

मान्यता है कि हनुमान चालीसा का पाठ घर में सुख-शांति और समृद्धि लाता है. आप मंगलवार या शनिवार के दिन सात बार हनुमान चालीसा का पाठ कर सकते हैं. या फिर नियमित रूप से एक बार कम से कम हनुमान चालीसा का पाठ अवश्य करें. 

5.आर्थिक स्थिति मजबूत करने के लिए

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार हनुमान चालीसा का पाठ सात बार करने से जातक की आर्थिक स्थिति मजबूत होती है. कारोबार में व्यक्ति को उन्नति मिलती है. वहीं, अगर आप नौकरी कर रहे हैं, तो आपको प्रमोशन और तरक्की मिलने से कोई नहीं रोक सकता. 

,

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
1

Warning: A non-numeric value encountered in /home/gyaansagar/public_html/wp-content/themes/ionMag/includes/wp_booster/td_block.php on line 1008

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here